dil ki shayari
Other Quotes & Shayari

150+ Best Dil ki Shayari | दिल शायरी in Hindi | shayari dil se – DSQ

Spread the love

Dil ki shayari

Latest Dil ki shayari in hindi ll Dill ki shayari ll dil shayari ll shayari dil se ll Dill ki shayari ll दिल शायरी ll dil shayari hindi ll Dill ki shayari in hindill shayari dil se in hindi. Share it on Whatsapp, Facebook, and Instagram.

Hello friends, in today’s article we have brought the best collection of Dill ki shayari in hindi
for you guys. If you are also searching for shayari dil se in hindi
on the internet then you have come to the right website, our best collection of Shayari on dil shayari in hindi is available in this article and we sincerely hope that these quotes are available to you guys.

Dill ki shayari

तेरा ख़याल तेरी तलब और तेरी आरज,
इक भीड़ सी लगी है मेरे दिल के शहर में !
फिर वही दिल की गुज़ारिश, फिर वही उनका ग़ुरूर,
फिर वही उनकी शरारत, फिर वही मेरा कुसूर।
तुम चाहे बंद कर लो दिल के दरवाजे सारे,
हम दिल मे उतर आएंगे कलम के सहारे।
इजहार-ए-इश्क करूं या पूछ लूं तबियत उनकी,
ऐ दिल कोई तो बहाना बता उनसे बात करने का।
इतना दिल से ना लगाया करो, मेरी बातो को,
कोई बात दिल में रह गई, तो हमे भुला नहीं पाओगे . .
तेरी खामोशी जला देती है इस दिल की तमन्नाओं को,
बाकी सारी बातें अच्छी है तेरी तस्वीर में।

dil shayari

नज़रें मिलते ही दिल लगाया नहीं जाता,
हर मिलने वाले को अपना बनाया नहीं जाता,
और जो दिल में बस जाये एकबार,
उन्हें उम्रभर भुलाया नहीं जाता! ??
होती नहीं है मोहब्बत सूरत से,
मोहब्बत तो दिल से होती है,
सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी,
कदर जिनकी दिल में होती है।
धड़कते दिल की आवाज तुम हो,
सब से ज्यादा कुछ खास तुम हो,
हर पल एहसास होता है इतना,
जेसे मेरे दिल के पास तुम हो।
यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए,
कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए,
रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं,
बस दिलों मे प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए! ?
उसके सिवा किसी और को,
चाहना मेरे बस में नहीं है,
ये दिल उसका है,
अपना होता तो और बात होती।
दिल में हर बात आज भी वही है
ज़ाहिर है तुझ पे मेरा हक़ नहीं है
देखते देखते यु मंज़र बदल गया
तू मेरा होकर भी मेरा नहीं है।

shayari dil se

तेरा नाम था आज अजनबी की जुबान पर,
बात जरा सी थी पर दिल ने बुरा मान लिया।
न पूछ दिल की हकीक़त मगर ये कहता है,
वो भी बेक़रार रहे जिसने बेक़रार किया।
दिल की धड़कन बनकर दिल में रहोगे तुम,
जब तक सास है मेरे साथ रहोगी तुम।
दिल एक है तो, कई बार क्यों लगाया जाये,
बस एक इश्क़ ही काफी है, अगर निभाया जाये।
हम ने सीने से लगाया दिल न अपना बन सका,
मुस्कुरा कर तुम ने देखा दिल तुम्हारा हो गया।
अब जिसके जी में आये वही पाये रौशनी,
हमने तो दिल जला कर सरेआम रख दिया।

Dill ki shayari

यूँ तसल्ली दे रहे हैं हम दिल-ए-बीमार को,
जिस तरह थामे कोई गिरती हुई दीवार को।
मेरे लबों का तबस्सुम तो सबने देख लिया,
जो दिल पे बीत रही है वो कोई क्या जाने।
तू भी खामख्वाह बढ़ रही है ऐ धूप,
इस शहर में पिघलने वाले दिल ही नहीं रहे।
देख मेरी आँखों में ख्वाब किसके हैं,
दिल में मेरे सुलगते तूफ़ान किसके हैं,
नहीं गुज़रा कोई आज तक इस रास्ते से हो कर,
फिर ये क़दमों के निशान किसके हैं। ? ?
इक छोटी सी ही तो हसरत है
इस दिल ए नादान की,
कोई चाह ले इस कदर
कि खुद पर गुमान हो जाए।
तुम्हारी याद के साए मेरे दिल के अँधेरे में,
बहुत तकलीफ देते हैं मुझे जीने नहीं देते,
अकेली राह में हमराह कोई मिल तो जाता है,
मगर कुछ दर्द हैं जो दिल बहलने नहीं देते। ??

दिल शायरी

हम तुमसे दूर कैसे रह पाते,
दिल से तुमको कैसे भूल पाते,
काश तुम आईने में बसे होते,
ख़ुद को देखते तो तुम नज़र आते।। ?
जीने के लिए तुम्हारी याद ही काफी है,
इस दिल में बस अब तुम ही बाकी हो,
आप तो भूल गए हो हमें अपने दिल से,
लेकिन हमें आज भी तुम्हारी तालाश बाकी है।
ऐसा नहीं था कि,
दिल में तेरी तस्वीर नहीं थी,
बस इतना समझ लो की,
हाथो में तेरे नाम की लकीर नहीं थी।
मानता ही नहीं कमबख्त दिल उसे चाहने से,
मैं हाथ जोड़ता हूँ तो ये गले पड़ जाता है।
न ख़ुशी अच्छी है ऐ दिल न मलाल अच्छा है,
यार जिस हाल में रखे वही हाल अच्छा है।
दिल-ए-तबाह को ज़ख़्मों की कुछ कमी तो नहीं,
मगर है दिल की तमन्ना कि तुम फिर से वार करो।

dil shayari hindi

कितने दिलों को तोड़ती है ये कमबख्त फरवरी,
यूं ही नहीं इसके, दिन घटाए है।
उन्हें मालूम है, मैं दिल का मरीज़ हूँ, फिर भी
वो मुझसे पूछते हैं, आशिक़ मिजाज़ कैसा है।
मेरा दिल भी कभी तुझसे पूछेगा एक दिन,
तू ने किसको आबाद किया मुझे बर्बाद करके।
माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही,
पर ये सच है के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही,
उस के दिल मे, उसकी यादो मे कोई और है लेकिन,
मेरी हर साँस में उसके सिवा कोई और नही.. ?
शायरी लिखना कौन जाने,
शायरी तो खुद-बा-खुद बन जाती है,
जब दिल भर आता है तो,
कलम खुद-बा-खुद चल जाती है।
बड़ी आसानी से दिल लगाए जाते हैं,
पर बड़ी मुश्किल से वादे निभाए जाते हैं,
लेकर जाती है मोहब्बत उन राहों पर,
जहां पर दिये नहीं दिल जलाए जाते हैं।

Dill ki shayari in hindi

ऊपर से गुस्सा दिल से प्यार करते हो,
नज़रें चुराते हो दिल बेक़रार करते हो,
लाख़ छुपाओ दुनिया से मुझे ख़बर है,
तुम मुझे ख़ुद से भी ज्यादा प्यार करते हो! ?
दिल-ए-नादान तुझे हुआ क्या है,
आखिर इस दर्द की दवा क्या है,
हमको उनसे है उम्मीद वफ़ा की,
जो जानते ही नहीं वफ़ा क्या है।
भले ही चले जाओ दूर हमसे,
तेरी यादों को हमनें महफूज़ रखा है,
लौटकर आओगे उम्मीद है दिल को,
दरवाजा इस दिल का खुला रखा है! ?
तुम कभी भी मोहब्बत,
आज़माकर देखना मेरी,
हम जिंदगी से हार जायेंगे,
मोहब्बत से नहीं।
उतरा है मेरे दिल में कोई चाँद नगर से,
अब खौफ ना कोई अंधेरों के सफ़र से,
वो बात है तुझ में कोई तुझ सा नहीं है,
कि काश कोई देखे तुझे मेरी नजर से। ?
तुझे क्या पता कि मेरे दिल में,
कितना प्यार है तेरे लिए,
जो कर दूँ बयान तो,
तुझे नींद से नफरत हो जाए!

dil shayari in hindi

कौन कहता है कि दिल,
सिर्फ सीने में होता है,
तुझको लिखू तो मेरी,
उंगलियाँ भी धड़कती है।
मेरे दिल की धड़कनो को,
तूने दिल बर धड़कना सीखा दिया,
जब से मिली है मोहब्बत तेरी मेरे दिल को,
गम में भी हंसना सीखा दिया।
काश उसे चाहने का अरमान न होता,
मैं होश में रहते हुए अनजान न होता,
ना प्यार होता किसी पत्थर दिल से हमको,
या फिर कोई पत्थर दिल इंसान न होता।
अपने आँचल से बाँध लूं दिल को,
कहीं तेरे ख्यालों के साथ उड़ न जाये,
थाम लूँ हाथ इसका कसकर,
कहीं तेरी यादों में राह से मुड़ न जाये।
इस दिल की सरहद को पार न करना,
नाज़ुक है मेरा दिल इस पर वार न करना,
खुद से बढ़कर भरोसा किया है तुम पर,
इस भरोसे को तुम बेकार न करना।
आज भी कितना नादान है,
दिल समझता ही नहीं,
बाद बरसों के उन्हें देखा,
तो दुआएं मांग बैठ।

shayari dil se in hindi

इश्क़ अगर किया है तो वफ़ा करना भी सीखो,
फक़त यूँ दिल लगाने से दिलों में घर नहीं बनते।
अल्फाज तुम्हारे भी दोस्त बयान करते हैं,
चोट दिल पे भी तुम्हारे बड़ी गहरी लगी है।
कभी पिघलेंगे पत्थर भी मोहब्बत की तपिश पाकर,
बस यही सोच कर हम पत्थर से दिल लगा बैठे।
हो जाऊ तुमसे दूर फिर मौहब्बत किससे करूं,
तुम हो जाओ नाराज फिर शिकायत किससे करूं,
इस दिल में कुछ भी नहीं तुम्हारी चाहतों के सिवा,
अगर तुम्हें ही भूला दूं तो फिर प्यार किसे करूं! ?
काश,,,बनाने वाले ने दिल काँच का बनाया होता,
दिल तोड़ने वाले के हाथों में ज़ख्म तो आया होता,
जब भी वो देखता अपने हाथों की तरफ,
कम से कम उसे मैरा ख्याल तो आया होता।
वादे वफ़ा करके क्यों मुकर जाते हैं लोग,
किसी के दिल को क्यों तड़पाते हैं लोग,
अगर दिल लगाकर निभा नहीं सकते,
तो फिर क्यों दिल लगाते हैं लोग।

दिल शायरी in hindi

इस दिल की दास्ताँ भी बड़ी अजीब होती है,
बड़ी मुश्किल से इसे ख़ुशी नसीब होती है,
किसी के पास आने पर ख़ुशी हो न हो,
पर दूर जाने पर बड़ी तकलीफ होती है।
जिंदगी तेरे बिना अब कटती नहीं है,
तेरी याद मेरे दिल से मिटती नही,
तुम बसे हो मेरी निगाहो में,
आँखो से तेरी सूरत हटती नहीं !
तु ही मिल जाए मुझे बस इतना ही काफी है,
मेरी हर सांस ने बस ये ही दुआ मांगी है,
जाने क्यूँ दिल खिंचा चला जाता है तेरी तरफ,
क्या तूने भी मुझे पाने की दुआ मांगी है! ?
ऐ दिल! मत कर इतनी मोहब्बत तू किसी से,
इश्क़ में मिला दर्द तू सह नहीं पायेगा,
टूट कर बिखर जायेगा एक दिन अपनों के हाथों,
किसने तोड़ा ये भी किसी से कह नहीं पायेगा।
किया इश्क़ ने मेरा हाल कुछ ऐसा,
ना अपनी है खबर ना दिल का पता है,
कसूरवार था मेरा ये दौर-ए-जवानी,
मैं समझता रहा सनम की खता है। ?
न हम रहे दिल लगाने के काबिल,
न दिल रहा ग़म उठाने के काबिल,
लगे उसकी यादों के जो ज़ख़्म दिल पर,
न छोड़ा उसने मुस्कुराने के काबिल।

Leave a Reply

Your email address will not be published.